Advertisement

header ads

मुनक्‍का खाने के फायदे और नुकसान - स्वास्थ्य पत्रिका

मुनक्‍का खाने के फायदे और नुकसान –  Munakka khane ke fayde Aur Nuksan in Hindi


मुनक्का की प्रकृति तर और गर्म होती है। किशमिश या मुनक्का एक प्रकार का अंगूर है, अंगूर जब सुख जाता है तो उसे मुनक्का या किशमिश के नाम से जाना जाता है l यह स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्छा है मुनक्का खाने के फायदे बहुत सारे हैं।मुनक्का को एक ऊर्जावान शुष्क फल के रूप में जाना जाता है l सर्दी के मौसम में मुनक्का का नित्य सेवन अधिक लाभदायक है। मुनक्का को गर्म पानी से धोकर रात को भिगो दें। प्रातः उसके पानी को पी लें तथा दानों को खा लें। इस तरह नित्य प्रयोग करने से कमजोरी दूर हो जाती है। रक्त और शक्ति उत्पन्न होती है। फेफड़े को बल मिलता है। दुर्बल रोगी को मुनक्का का भिगोया हुआ पानी नित्य पिलायें।

मुनक्का खाने के फायदे और नुकसान

किशमश या मुनक्‍का फाइबर, एंटी-आक्‍सीडेंटu और कैल्शियम के अच्‍छे स्रोत होते हैं। कैल्शियम और सूक्ष्‍म पोषक तत्व बोरॉन के होने के कारण वे हमारी हड्डियों और दांतों को मजबूत करने में मदद करते हैं। बोरान हड्डियों में कैल्शियम के त्‍वरित अवशोषण में मदद करता है l मुनक्का में एक अमूल्य एंटीआक्‍सीडेंट कैटेचिन होता है। इसमें कैम्‍फेरोल एक फ्लैवोनॉयड भी होता है जो कोलन कैंसर के ट्यूमर के विकास को कम करने में मदद करता है। मुनक्का पॉलीफेनोलिक-फाइटोन्‍यूट्रिएंट का एक अच्छा स्रोत हैं, जो आंखों और त्वचा के लिए अच्छा होता है l

मुनक्का अधिकांश रोगों जैसे हृदय रोग, पेट की बीमारियों और फेफड़ों की बीमारियों को ठीक करने में मदद करता है। लंबी बीमारी के बाद मुनक्‍का तेजी से राहत पाने के लिए बेहद फायदेमंद है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करता है। यह पोटेशियम में अच्‍छा है जो रक्‍त वाहिकाओं में तनाव को कम करता है। पेटेशियम के अलावा इसमें अन्‍य महत्‍वपूर्ण पोषक तत्‍व भी होते हैं जो रक्‍तचाप को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। मुनक्‍का में प्राकृतिक शर्करा हैं जैसे सुक्रोज और ग्‍लूकोज ये वजन बढ़ाने में बहुत मददगार होते हैं।

मुनक्का के औषधीय गुण, Munakka ke aushdhiy gun in hindi 


चक्कर आना (Vertigo) - 20 ग्राम मुनक्का घी में सेक कर सैंधा नमक डालकर खाने से चक्कर आना बन्द हो जाता है। कब्ज़ में नित्य 10 मुनक्का गर्म दूध में उबाल कर लेने से लाभ होता है।
मुनक्का के औषधीय गुण

मुनक्का खाने से रक्त-विकार दूर होता है - 20 ग्राम मुनक्का रात को पानी में भिगों दें। इसे प्रातः पीस कर एक कप पानी में घोल कर प्रति दिन पीते रहने से रक्त साफ होता है।

चेचक में लाभकारी है मुनक्का - चेचक के रोगी को दिन में,कई बार दो-दो मुनक्का या किशमिश खिलाने से चेचक में लाभ होता है।

मुनक्का का सेवन बालों के लिए - लौह तत्व की अच्छी मात्रा मुनक्का में होती है। यह रक्‍त परिसंचरण को बढ़ावा देता है जो बालों के विकास के लिए टॉनिक के रूप में कार्य करता है। मुनक्का पाचन तंत्र से जहरीले पदार्थों को खत्‍म करते हैं। वे जीवाणु विकास और आंतों की बीमारियों को रोकने में फायदेमंद हैं। मुनक्का में मौजूद फाइबर पित्‍त के विसर्जन को बढ़ावा देने में उपयोगी हैं।
मुनक्का और दूध के फायदे, मुनक्का खाने के फायदे बालों के लिए
रक्त और वीर्य वृद्धि - 60 ग्राम मुनक्का धोकर भिगो दें। बारह घण्टे बाद इनको खायें। भीगी हुई मुनक्का पेट के रोगों को दूर कर रक्त और वीर्य बढ़ाती है। मुनक्का धीरे-धीरे बढ़ा कर दो सौ ग्राम तक ले सकते हैं। वर्ष में इस तरह तीन-चार किलो मुनक्का खाना बहुत लाभदायक है।

भूख न लगना - मुनक्का, नमक, काली मिर्च सबको मिला कर गर्म करके खाने से भख बढ़ती है। पुराने बुखार में जब भूख नहीं लगती हो तो यह प्रयोग विशेष लाभदायक है।

टी० बी० को ठीक करता है मुनक्का - मुनक्का, पीपल, देशी शक्कर समान भाग पीस कर एक चम्मच सबह-शाम खाने से यक्ष्मा (टी० बी०), श्वास, खाँसी दूर होती हैं।

खाँसी, जुकाम में मुनक्का लाभप्रद है। जुकाम बार-बार लगता हो, ठीक ही न होता हो तो 11 मुनक्का, 11 कालो मिर्चं,5 बादाम भिगों कर छील लें। फिर इन सबको पीस कर 25 ग्राम मक्खन में मिला कर रात को सोते समय खायें। प्रातः दध में दो पीपल, 10 काली मिर्च सौठ डाल कर उबाला हुआ दूध पीयें| यह कई महीने करें। जुकाम स्थाई रूप से ठीक हो जायेगा।

मुक्का खाने से क्या नुकसान होता है –Munakka Khane se kya Nuksan hota hai 

शरीस्‍वास्‍थ्‍य के लिए किशमिश एक उत्‍कृष्‍ट सूखा फल है। यदि इसे सीमित मात्रा में उपभोग किया जाये । मुनक्‍का का कोई ज्ञात दुष्‍प्रभाव नहीं है, लेकिन इसकी मीठी सामग्री के कारण मधुमेह रोगी को डाक्‍टर के परामर्श के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए। यह कैलोरी का अच्‍छा स्रोत माना जाता है जो वजन घटाने वाले लोगों के लिए हानिकारक हो सकता है। कुछ लोग अंगूर और मुनक्का के लिए एलर्जी विकसित करते हैं। यह उनके गले में घरघराहट या सांस लेने की समस्‍या पैदा कर सकता है। मुनक्का लेने वाले लोगों में पाए गए कुछ दुष्‍प्रभाव उल्‍टी, दस्‍त और बुखार है।

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां

NIRMALA ने कहा…
nice article thanks for sharing
https://www.thewish4u.com/2020/05/blog-post_65.html